कर्क राशि

कर्क राशि

लेखक: सोनू शर्मा

कर्क राशि

कर्क राशि का स्वामी चन्द्रमा होता हैं, यह जल तत्व की राशि हैं। जल राशि होने के कारण ये पानी के निकट घूमना पसंद करते हैं ।

कर्क राशि के जातक का रंग राफ होता हैं, इनका चेहरा गोल होता हैं, यह लोग माध्यम कद के और पतले होते हैं । दिखने में सुन्दर और आकर्षित होते हैं, दयालु और मिलनसार होते हैं । अपनी भावनाओं को अपने अंदर छुपा के रखते हैं, यदि इन्हे कोई परेशान करे तो इनका व्यव्हार कड़वा हो जाता हैं । यह अपने घर से ज़्यादा दूर नहीं रह सकते, अपने परिवार और परिजनों से बहुत प्रेम करते हैं । यदि इनकी माँ की कोई आलोचना करे या इनके घरवालो के बारे में कोई बुराई करे, तो वह उसे बिलकुल बर्दाश नहीं करते ।

कर्क राशि का चिन्ह केकड़ा होता हैं , केकड़ा किसी को आसानी से नहीं छोड़ता उसी तरह जिनसे ये प्रेम करते हैं उन्हें अपने से दूर नहीं होने देते ।

इनका मूड बदलते देर नहीं लगते, इनमे कल्पना शक्ति और स्मरण शक्ति अपार होती हैं। अपने जीवन साथी और संतान से बहुत मोह रखते हैं । ऐसे व्यक्ति कलाकार, लेखक, संगीतकार या नाटककार हो सकते हैं ।

इन्हे अपने भोजन पर अधिक ध्यान देना चाहिए , इन्हे फेफड़ो के रोग, श्वास रोग, खासी तथा दमा रोग हो सकते हैं, क्योकि यह जल से सम्बन्ध राशि हैं इसीलिए इन्हे जल से सम्बन्धी रोग होने की सम्भावना अधिक रहती हैं । इनके लिए पैसा बहुत महत्वपूर्ण होता हैं, बहुत जल्दी पैसा कमा लेते हैं और जल्दी खर्च भी कर देते हैं, बहुत खर्चीले होते हैं ।

कर्क राशि वालों के लिए मंगलवार शुभ दिन होता है, शुभ रत्न मोती और मून स्टोन और इनकी मित्र राशि वृश्चिक और मीन होती हैं।