गुरुवार को जन्मे जातक का स्वभाव!

गुरुवार को जन्मे जातक का स्वभाव!

लेखक: सोनू शर्मा

गुरुवार का कारक ग्रह बृहस्पति है, यह शिक्षा, ज्ञान, न्याय व बुद्धि का देवता माना जाता है । गुरुवार को जन्मे जातक बहुत महत्वकांशी होते है तथा इनकी शिक्षा के प्रति अच्छी रूचि होती है । वर्तमान में जीते है और किसी भी काम को कल पर नहीं छोड़ते, ये बहुत अनुशासन प्रिय होते है, इनके विचार बहुत सुलझे हुए होते है, जीससे लोग इनके प्रति आकर्षित हो जाते है । इनकी धर्म में विशेष आस्था होती है, पूजा पाठ करने वाले होते है, बहुत गंभीर स्वभाव के होते है तथा दूरदर्शी होते है ।

इनका कद लम्बा, तीखी नाक, गोरा रंग, आकर्षक चेहरा तथा आवाज़ बुलंद होती है । यह बोलने से पहले बहुत सोच विचारकर बोलते है, यह किसी का बुरा नहीं सोचते तथा किसी को धोखा नहीं देते । यह सच्चे मित्र साबित होते है तथा अपने दोस्तों का सही मार्गदर्शन करने वाले होते है । इनका भविष्य बहुत उज्जवल होता है, ऐसेव्यक्ति बहुत दयालु होते है तथा जरुरत पड़ने पर सबकी सहायता करने को तत्पर रहते है , ये बहुत विश्वसनीय होते है ।

ऐसे व्यक्ति नेता, गुरु, न्यायधीश, धार्मिक कार्य, सलाहकार तथा शिक्षा सम्बन्धी कोई भी व्यवसाय अपना सकते है, इनके लिए शुभ रंग पीला, शुभ वार रविवार, मंगलवार, गुरुवार तथा शुभ रत्न पुखराज, सुनहला, नीलमणि, फिरोजा होते है । ये बहुत व्यव्हार कुशल होते है, इनका पारिवारिक जीवन खुशाल होता है और इन्हे अच्छा जीवन साथी मिलता है ।

इन्हे लीवर, शारीरक कमजोरी, खून की कमी, हृदय रोग, मोटापा, शुगर, कोलेस्ट्रॉल तथा फेफड़ो के रोग हो सकते है । ये बहुत साहसी होते है इसीलिए किसी भी परिस्थिति में धैर्य नहीं खोते तथा डट कर मुकाबला करते है ।