किन अवस्थाओं में नहीं करनी चाहिए हनुमानजी की पूजा!

979.jpg

लेखक: सोनू शर्मा


हनुमानजी जिन्हे लोग संकट मोचन और विघ्न हरता के नाम से भी जाना जाता है उनकी भक्ति से हर समस्या का समाधान होता है लेकिन उनकी पूजा करते वक़्त कुछ बातो का ध्यान देना चाहिए अन्यथा अशुभ परिणाममिलता है -

-         कभी भी अस्वच्छ और गंदे कपड़ों में हनुमानजी की पूजा नहीं करनी चाहिए और खास ध्यान देना चाहिए की साफ़ और शुद्ध कपडे ही पहने ।

-         महिलाओं को ध्यान रखना चाहिए की पीरियड्स के दौरान भूलकर भी हनुमान जी या किसी अन्य देवी-देवताओं की पूजा नहीं करनी चाहिए। यहाँ तक की उस महिला की छाया भी हनुमान जी की प्रतिमा परनहीं पड़नी चाहिए ।

-         कभी भी बिना स्नान किए हुए देवी-देवताओं की अर्चना नहीं करना चाहिए तथा बिना स्नान किए किसी भी देवी-देवताओं की मूर्ति को हाथ भी नहीं लगाना चाहिए अन्यथा इसका नकारात्मक प्रभाव होता है ।

-         यदि आपके आस पड़ोस या रिश्तेदारी में किसी की मृत्यु हो जाए तो उसकी शवयात्रा से आने के बाद बिना स्नान किए किसी भी देवी- देवता की मूर्ति को हाथ नहीं लगाना चाहिए।

-         कभी भी अशुद्ध अवस्था में भी हनुमानजी सहित अन्य देवी-देवताओं की पूजा अर्चना नहीं करनी चाहिए, हमेशा स्नान करने के बाद शुभ वस्त्र में ही हनुमानजी की पूजा करनी चाहिए।

-         कभी भी झूठे मुंह किसी भी देवी-देवता की पूजा नहीं करनी चाहिए । इस बात का ध्यान रखना चाहिए की खाना खाने के बाद बिना कुल्ला किए पूजा नहीं करनी चाहिए अन्यथा इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं ।