जानिए कैसा चंद्र पर्वत कराता है आपको विदेश यात्राएं!

970.jpg

लेखिका : रजनीशा शर्मा

चंद्र पर्वत चंद्र ग्रह शासित होता है इस पर्वत के अध्ययन से जन्म के समय चंद्र ग्रह की स्थिति का पता भी लगाया जा सकता है | एक तरह से हम कह सकते है की यदि किसी की जन्म तिथि ज्ञात ना हो तो उसके हाथ के पर्वतो का अध्ययन कर उसके जीवन में प्रभावी ग्रहो का पता लगाया जा सकता है | आवश्यकता है गहन अध्ययन और ज्ञान की | आइये आज हम व्यक्ति के जीवन में चंद्र पर्वत के महत्व और प्रभाव का अध्ययन करते है | यह ग्रह सौंदर्य ,कल्पना और शीतलता का ग्रह है दाये हाथ में आयु रेखा से बाई ओर मणिबंध से ऊपर चंद्र पर्वत का स्थान होता है -


1 - चंद्र प्रधान व्यक्ति कलाकार एवं भावुक प्रवृत्ति का होता है | कल्पनाशीलता उसे जन्म से प्राप्त होती है उसका स्वभाव कोमल एवं रसिक होता है |


2 - पुष्ट एवं उन्नत चंद्र पर्वत वाला व्यक्ति सौंदर्य प्रेमी होता है वह वास्तविक दुनिया से हट कर कल्पना के सागर में डूबा रहता है | ये सदैव स्वयं में ही ही खोये रहते है इन्हे अपने आस पास क्या घटित हो रहा है इससे कोई मतलब नहीं रहता |


3 - यदि चंद्र पर्वत सीधाउभरा एवं उन्नत हो तो व्यक्ति प्रकृति प्रेमी होता है | वह संसार के छल कपट से दूर एक अलग ही स्वप्नलोक में विचरण करता रहता है | ऐसे व्यक्ति कलाकार , कवि एवं साहित्यकार होते है | वे प्रायः कोमल स्वभाव के मिलनसार एवं धार्मिक होते है | वे श्रेष्ठ विचारवान होते है |


4 - जिन लोगो के हाथो में  चंद्र पर्वत अनुपस्थित रहता है वे व्यक्ति कठोर ह्रदय के होते है | कभी कभी तो वे ऐसे काम कर जाते है जिनकी किसी ने कल्पना भी ना की हो

Leave a Comment