धर्मग्रंथो के अनुसार घर में करे इस प्रकार काम और आप हो जाएंगे सुखी!

686.jpg

लेखिका : रजनीशा शर्मा  

हमारे पूर्वजो ने हर काम को करने के बारीक से बारीक तरीको और बातो पर ध्यान दिया जो हमे रोगो से तो बचाते ही है और हमारे शरीर में व्याप्त आलस्य जैसे रोग का भी नाश कर देते है | उन्होंने जीवन को इतना आशावादी बनाया है की आप डिप्रेशन का शिकार कभी हो ही नहीं सकते आवश्यकता है बस  उसे जानने और सही दिशा में समझने की| आइये  जानते  है घर में काम करने का  सही तरीका -

1 - घर का मुख्य द्वार साफ़ एवं खुला होने चाहिए मुख्य द्वार पर अनावश्यक सामन नहीं रखना चाहिए |

2 - सूर्यास्त के पश्चात धन , दूध एवं दही का आदान प्रदान नहीं करना चाहिए |

3 - यदि संभव हो तो घर में रात्रि का भोजन घर के सभी सदस्य एक साथ करे इससे घर में सौहार्द्य बढ़ता है |

4 - रात्रि में घर में एक बर्तन में साफ़ पानी भर कर रसोई में अवश्य रखे धन धान्य में वृद्धि होगी |

5 - घर आते समय कभी कभी कुछ लेकर अवश्य आये | इससे घर में बरकत बनी रहती है |

6 - घर की छत पर कुछ भी धोना नहीं चाहिए इससे संबंधियों से संबंध बिगड़ते है |

7 - बुधवार को ह्री एवं गुरूवार को पीली वस्तु का दान करने से ग्रहो की चाल से होने वाली परेशानी नहीं व्याप्ति |

8 - रसोईघर में झूठे बर्तन छोड़ कर ना सोये | भोजन बनाने के तुरंत बाद रसोई साफ़ नहीं करना चाहिए |

9 - जूते एवं चप्पल आदि को अव्यवस्थित ना रखे इससे शनि दोष उत्पन्न होता है |

10 - जिस बर्तन में आप भोजन पकाते है उसे गैस या चूल्हे पर चढ़े हुए ही खाली ना करे | पकाने वाले बर्तनो में भोजन नहीं करना चाहिए | इससे रोग व्याप्त होता है |