यदि शीघ्र विवाह ना हो रहा हो तो अपनाये कुछ आसान उपाय!

472.jpg

लेखिका : रजनीशा शर्मा

कभी कभी कुंडली दोषो के कारण विवाह में  विलम्ब होता है  या प्रेम विवाह में अड़चन आती है तो आप कुछ आसान उपायों से मार्ग में आ रही बाधाओं को दूर कर सकते है -

* भगवान शिव की अनेक उपासनाएँ है जिसे करने से आसानी से अच्छा वर और घर प्राप्त होता है | जिसमे से एक आसान उपाय है हर दिन भगवान शिव का जलाभिषेक करे और अपनी कामना कहे ऐसा तब तक करे जब तक विवाह ना हो जाए |

* प्रेम विवाह करने के लिए भगवान श्री कृष्ण का पूजन सबसे उत्तम उपाय है | भगवान श्री कृष्ण को भोग लगाए और प्रतिदिन इस मंत्र का जाप करे -

    "क्लींकृष्णाय गोविन्दाय गोपीजनवल्लभाय स्वाहा "

मनवांछित वर की प्राप्ति होगी |

* अगर किसी कन्या का विवाह ना हो रहा हो तो किसी कन्या के शगुन की हल्दी लगाने से भी विवाह का मार्ग शीघ्र प्रशस्त होता है |

* सफेद खरगोश को भोजन कराने से भी दोषो का निवारण होता है और विवाह जल्दी होता है |

* गुरूवार के दिन भगवान विष्णु का पूजन कर केले के वृक्ष में जल अर्पित करने से भी विवाह जल्दी सम्पन्न होता है |इस दिन हल्दी और पीले वस्त्र का दान भी करे |

* पूर्णमासी  के दिन सफेद वस्तुओं का दान करे और बरगद के वृक्ष की परिक्रमा करे |

* लग्न के अनुसार जो दिन कन्या या वर के लिए शुभ हो उस दिन में ही विवाह की बात करने जाए इससे भी सफलता प्राप्त होगी |

* वृहस्पति के दोष के कारण भी विवाह में विलम्ब होता है | इस दोष को दूर करने के लिए वृहस्पति के दिन गाय को गुड़ , चना एवं हल्दी लगी आटे की लोई खिलाये इससे विवाह का मार्ग शीघ्र प्रशस्त्र होगा |

* भगवान शिव और माता पार्वती की जोड़े से पूजा करने से भी वर की प्राप्ति शीघ्र होती हैं |सोमवार के दिन  विधिवत पूजन करे |अर्थात फूल , फल , भोग बेलपत्र आदि से पूजन कर आरती करे |

* वृहस्पति के दिन मिठाई और इलाइची के जोड़े से भगवान विष्णु का  शुद्ध घी के दीपक से पूजन करने से विवाह शीघ्र ही होता है |

* मंगल दोष से उत्पन्न विवाह में देरी को दूर करने के लिए मंगलवार को सुंदरकांड का पाठ करना चाहिए |

* यदि प्रेम विवाह में बाधा आ रही हो तो भगवान विष्णु और माँ लक्ष्मी का पूजन करे | शुक्ल पक्ष के गुरूवार से प्रारम्भ कर भगवान विष्णु और माँ लक्ष्मी का पूजन कर प्रसाद चढ़ाये और ॐ लक्ष्मीनारायणाय नमः का जाप करे |

* विवाह में विलम्ब होने पर पानी में एक चुटकी हल्दी डालकर नहाये |

* विवाह योग्य कन्या या लड़के को अपने कमरे खराब लोहा या अन्य कबाड़ नहीं इकट्ठा करना चाहिए |