बांसुरी दूर कर सकती है आपके घर में मौजूद वास्तुदोष को!

452.jpg

लेखक: सोनू शर्मा

कभी - कभी वास्तु दोष के कारण घर में अनेक समस्याएँ आने लगती है और हम दोबारा घर का निर्माण करा के या तोड़ फोड़ करके उसका निवारण नहीं करा सकते, ऐसी स्थिति में बांसुरी एक अच्छा विकल्प है । बांसुरी अंदर से खोखली होती है, जब भी उसमे नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है तो वह सकारात्मक ऊर्जा में परिवर्तित हो जाती है ।

  • घर में यदि अशांति रहती हो, पति - पत्नी के बीच विवाद या घर में पैसों की तंगी बनी रहती हो तो घर में बांसुरी अवशय रखनी चाहिए, इससे उस घर में रहने वाले लोगों के बीच आपस में प्रेम बना रहता है, सुख तथा समृद्धि बनी रहती हैं ।

  • यदि वास्तुदोष के कारण नौकरी नहीं मिल रही हो तो अपने कमरे में दरवाज़े के पास बांसुरी लगाने से जल्द ही नौकरी मिल जाती हैं ।

  • यदि घर में नकारात्मक ऊर्जा हो और उसके कारण व्यापार नहीं चल रहा हो तो काले रंग की बांसुरी को दुकान की छत पर टांग देने से व्यापार चलने लगता हैं।

  • कभी - कभी वास्तु दोष के कारण घर के सदस्यों में कलेश रहता हैं, मानसिक अशांति रहती हैं, इसके लिए घर के ड्राइंग रूम में एक ही रंग की दो बांसुरी रखने से आपसी मतभेद समाप्त हो जाता हैं ।

  • यदि संतान नहीं हो रही हो तो अपने सोने के कमरे में हरे रंग की बांसुरी को इस तरह से रखे की औरों को यह दिखाई न दे ।

  • यदि घर में एक सीध में दो से अधिक दरवाज़े हो तो घर के मेन गेट के ऊपर दो बांसुरी लगाने से वास्तुदोष समाप्त होने लगता हैं  ।

ऐसा माना जाता हैं कि जिस घर में बांसुरी बजायी जाती हैं वहाँ सकारात्मक ऊर्जा चुंबकीय प्रवाह के साथ घर में प्रवेश करती हैं तथा घर में समृद्धि बनी रहती हैं ।

Contact us +91 8449920558
contact@starzspeak.com

Get updated with us