ये ८ कारगारी टिप्स करने से मैडिटेशन का होगा ज़ादा जल्दी असर|

1308.jpg
नई दिल्ली: मेडिटेशन! कहते हैं कि मेडिटेशन करने से इंसान खुद को शांत रख पाता है. इससे इंसान की कॉन्सनट्रेशन पावर भी अच्छी होती और इससे इंसान को कई और फायदे भी होते हैं लेकिन शुरुआती वक्त में मेडिटेशन या यूं कहें कि ध्यान लगाना थोड़ा मुश्किल माना जाता है. कई लोगों को एक जगह बैठन की आदत नहीं होती और उन्हें मेडिटेशन की प्रक्रिया थोड़ी मुश्किल लगती है. वहीं कुछ लोगों को अकेले रहने की भी आदत नहीं होती. जिस वजह से इस तरह के लोग जल्दी बेचैन हो जाते हैं और मेडिटेशन नहीं कर पाते.
लेकिन अगर आप भी मेडिटेशन करना चाहते हैं और नहीं लगा पा रहे हैं तो चलिए हम आपको यहां कुछ टिप्स बताने वाले हैं जिससे आपकी ये मुश्किल थोड़ी कम जरूर हो जाएगी. 
एक गहरे ध्यान के अनुभव के लिए ये हैं कुछ आसाना सुझाव-
- अपने लिए समय और जगह को चुन लें.
- मेडिटेशन से पहले भर पेट खाना न खाएं मतलब पेट को थोड़ा खाली रखें और आराम से बैठें.
- थोड़ा से बॉडी को वार्मअप करें और गहरी सांस लेने के साथ शुरू करें.
- खुश रहें और चहरें पर मुस्कान रखें. 
यहां आपको बता दें, अगर आप सही तरह से इस क्रिया को करते हैं तो आपको थोड़े वक्त में ही ध्यान का गहरा अनुभव होगा. 
शुरुआती वक्त में इन बातों का रखें ध्यान-
1- अपने लिए सुविधाजनक समय चुने- वास्तव में ध्यान विश्राम का वक्त है, इस वजह से आप अपनी सुविधा के मुताबिक ही इसे करें. अपने लिए ऐसा वक्त चुनें जब एकांत हो और आपको किसी भी तरह की जल्दी न हो. हालांकि, सूर्योदय और सूर्यास्त को ध्यान के अभ्यास के लिए सही वक्त माना जाता है. 
2- अपने लिए सुविधाजनक स्थान चुनें- अपने लिए सही समय के चुनाव के साथ-साथ सुविधाजनक स्थान का भी चुनाव करें, जहां आपको कोई परेशानी न हो. शांत और शांतिपूर्ण वातावरण से आपको ध्यान लगाने में आसानी होगी और अच्छा महसूस होगा.
3- आराम से बैठें- ध्यान लगाते वक्त यह जरूरी है कि आप सुखद और स्थिर स्थिति में बैठें. आप ध्यान करते वक्त सीधे बैठें और रीड की हड्डी को भी सीधा रखें. अपने कंधे और गर्दन को विश्राम दें और इस पूरी प्रक्रिया के दौरान अपनी आंखें बंद रंखे. 
4- कम खाएं- भोजन करने से पहले ध्यान करना अच्छा होता है और अगर आपको बहुत तेज भूख लगी तो ध्यान लगे की ज्यादा कोशिश न करें. भूख की वजह से आपको ज्यादा परेशानी होगी. ऐसे में आप भोजन करने के दो घंटे बाद ध्यान लगाने की कोशिश करें.
5- वॉर्मअप से करें शुरुआत- ध्यान से पहले आप थोड़ा वॉर्मअप जरूर कर लें. इससे आपके रक्त परिसंचरण में सुधार होता है जिससे शरीर जड़ता है और बेचैनी कम होती है और शरीर में हल्कापन महसूस होता है. इससे आप ज्यादा वक्त तक बैठ पाएंगे.
6- लंबी गहरी सांस लें- ध्यान से पहले गहरी सांस लेने और छोड़ना और नाड़ी शोधन प्राणायाम करना अच्छा रहता है. इससे आपकी सांस की लय स्थिर हो जाती है और मन शांत होता जाता है और ध्यान की अवस्था में चला जाता है. 
7- चेहरे पर हल्की मुस्कान बनाए रखें- अपने चेहरे पर हल्की मुस्कान लाने से आपको खुद में फर्क महसूस होगा. एक निरंतर सौम्य मुस्कान से आपको आराम और शांति महसूस होगी. 
8- अपनी आंखों को धीरे से खोलें- जैसे आप ध्यान के अंत में पहुंचे तो अपनी आंखों को खोलने में जल्दी न करें. आंखे खोलने से मन बाहरी चीजों की तरफ भागने लगता है, इसलिए ध्यान के बाद आंखे धीरे धीरे खोलें. अपने प्रति और वातावरण के प्रति सजग होने के लिये समय लें.