जन्माष्टमी पर सुख-समृद्धि प्राप्त करने के लिए ज्योतिषी उपाय|

1260.jpg

By: Deepika

शास्त्रों के अनुसार जन्माष्टमी का दिन बेहद ही शुभ माना जाता है। जीवन में सुख-समृद्धि प्राप्त करने के लिए जन्माष्टमी के दिन कुछ ज्योतिषी उपायों को करना चाहिए, जिससे कोई जातक की हर मनोकामना भी प्राप्त होती है। तो चलिए आपकों बताते है कि जन्माष्टमी पर कौन से उपाय जातक को करना चाहिए।


  1. जन्माष्टमी के दिन भगवान श्री कृष्ण को सफेद मिठाई, या फिर साबुदाने या चावल की खीर अपनी क्षमतानुसार मेवे डालकर बनाए और भगवान कृष्ण का भोग लगाए। इस खीर में चीनी की जगह मिश्री डालें और तुलसी के पत्ते भी अवश्य डालें। इससे भगवान श्री कृष्ण की कृपा से एश्वर्य की प्राप्ति होती है।

  1. भगवान श्री कृष्ण को पीतांबर धारी भी कहा जाता है। पीतांबर धारी का अर्थ होता है जो पीले रंग के वस्त्रों का धारण करता है। इसलिए श्री कृष्ण जन्माष्टमी के दिन प्रत्येक मंदिर में भगवान के पीले रंग के कपड़े, पीले फल, पीला अनाज और पीली मिठाई दान करने से भगवान श्री कृष्ण प्रसन्न होते है। और साथ ही माता लक्ष्मी प्रसन्न हो जाती है जिससे उस जातक के जीवन में धन और यश की कभी भी कमी नही आती है।

  1. जन्माष्टमी के दिन श्री कृष्ण भगवान जी के मंदिर में जटा वाला नारियल और कम से कम 11 बादाम चढाएं। ऐसा माना जाता है कि जो जातक जन्माष्टमी से शुरूआत करके रोजाना लगातार 27 दिन तक जटा वाला नारियल और बादाम चढ़ाता है उसके सभी कार्य सिद्ध होते है, और उस जातक को जीवन में किसी भी चीज़ का अभाव नहीं रहता है।

  1. जन्माष्टमी के दिन भगवान श्री कृष्ण को पान का पत्ता अर्पित करें, फिर उसके बाद उस पत्ते पर रोली से श्री मंत्र लिखकर अपनी तिजोरी में रख लें। इस ज्योतिषि उपाय से कभी भी धन अभाव नही रहता है और धन आगमन सदैव बना रहता है।


  1. अपने जीवन में सभी तरह की सुख -समृद्धि प्राप्त करने के लिए जन्माष्टमी के दिन पीले चन्दन, केसर , गुलाबजल मिलाकर माथे पर टीका-बिन्दी लगाएं। यह काम हर गुरूवार को करें इससे सुख-समृद्धि में वृद्धि होगी।

  1. अगर आप कर्ज के बोझ तले दबे हुए को श्मशान के कुएं का जल लाकर पीपल के वृक्ष पर जन्माष्टमी से लेकर नियमित रूप से 6 शनिवार तक जल चढाएं।
  2. लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए जन्माष्टमी पर कहीं भी केले के दो पौधे लगा दें। इसके बाद नियमित देखभाल करते रहें। जब पौधे फल देने लगे तो इनका दान करें, स्वंय ना खाएं।

  1. जन्माष्टमी के दिन कृष्ण मंदिर जाकर तुलसी की माला से नीचे लिखे मन्त्र की 11 माला जापा करें। इस उपाय से आपकी हर समस्या का समाधान हो सकता है। मंत्र- क्लीं कृष्णाय वासुदेवाय हरी परमात्मने प्रणत क्लेशनाशाय गोविंदाय नमो नम:

जन्माष्टमी की शाम के समय तुलसी को गाय के घी का दीपक लगाएं और ऊँ वासुदेवाय नमा मंत्र बोलते  हुए तुलसी की 11 परिक्रमा करें।


तो इस प्रकार से आप इन सभी ज्योतिषी उपायों का नियमानुसार पालन करके जीवन के प्रत्येक सुख-समृद्धि में प्राप्ति कर सकते है।