घर-दुकान का मेन गेट भी बनता है दुर्भाग्य का कारण, बचा सकते हैं ये उपाय!

1168.jpg

By: Sonu Sharma

हर व्यक्ति यह कामना करता है कि उसके पास धन दौलत हो, नाम और शौहरत हो । इन सबको पाने के लिए व्यक्ति कड़ी मेहनत भी करता है लेकिन फिर भी सफलता उनके हाथ नहीं लगती, दुर्भाग्य उनका पीछा नहीं छोड़ता। अक्सर देखा जाता है की लोग अपने घर की सजावट पर बहुत ध्यान देते है लेकिन वह अपने घर के मेन गेट को इतना महत्व नहीं देते । वास्तु शास्त्र के हिसाब से घर का मेन गेट बहुत ही खास माना जाता है और माना जाताहै की घर के अंदर प्रवेश करने वाली एनर्जी मेन गेट से ही आती है और इसी का असर घर के सदस्यों पर भी पड़ता है । यदि आप चाहते है की आपके घर में पॉजिटिव एनर्जी फ्लो करे और ये आपके घर के सदस्यों के लिए दुर्भाग्य का कारण न बने तो आप कुछ खास बातो का ध्यान रखे –

-    इस बात का खास ध्यान रखे की मेन गेट का रंग महरून, यलो या रेड होना चाहिए अन्यथा आपके घर के सदस्यों में वाद - विवाद रहेगा और घर की सुख-शांति पर भी असर पड़ेगा ।

-    घर के मेन दरवाजे पर विंड चाइम लगाना शुभ माना जाता है और खास कर की छह छड़ वाली धातु की बनी विंड चाइम लगानी चाहिए, ऐसा करने से घर के वास्तु दोष दूर होते है तथा आस पास की नकारात्मकताभी नष्ट होती है ।

-    यदि घर के मेन गेट पर शुभ चिन्ह जैसे की ॐ, श्री गणेश, स्वास्तिक, शुभ-लाभ आदि बना हो तो यह आपके घर की बुरी नज़र से रक्षा करता है।

-    मेन दरवाजे के पास तुलसी या चमेली का पौधा रखना अच्छा रहता है, और इससे घर में दाखिल होने वाली एनर्जी पॉजिटिव हो जाती है ।