रंग-बिरंगी मोमबत्ती खोलती है समृद्धि के द्वार!

1136.jpg
लेखक: सोनू शर्मा


प्राचीन कल से चली आ रही वास्तु शास्त्र विद्या और चीन के फेंगशुई विद्या में एक बात बहुत ही कॉमन है वो है दोनों ही विद्या नकारात्मक और सकारात्मक एनर्जी के अनुरूप कार्य करते हैं। फेंगशुई में एनर्जी को बैलेंस करने के लिए बहुत से तरीके बताए गए हैं । उनमे से एक है खुशबूदार मोमबत्ती का प्रयोग जिससे माध्यम से वातावरण में सकारात्मकता आती है । जानते है कौन से रंग की मोमबत्ती किस दिशा में रखनी चाहिए –

फेंगशुई के हिसाब से घर की उत्तर दिशा में  मोमबत्ती रखने से घर की आर्थिक अवस्था ख़राब होती है और यह लक्ष्मी को घर में आने से बाधित करता है । इसलिए मोमबत्ती हमेशा उत्तर-पूर्वी, दक्षिणी या दक्षिण-पश्चिमी दिशा मेंरखनी चाहिए, इससे घर में बरकत होती है । घर की उत्तर-पश्चिम दिशा में मोमबत्ती जलाने से घर के सदस्यों में तनाव और मन मुटाव का वातावरण पैदा होता है, इसलिए इस दिशा में मोमबत्ती नहीं जलानी चाहिए। अपनेव्यवसाय के स्थान में उत्तर-पश्चिम दिशा में मोमबत्ती जलाने से आपके दफ्तर के कर्मचारियों के मन में धोकेबाजी आने लगती है ।

लाल और हरे रंग की मोमबत्तियों को हमेशा दक्षिण दिशा में लगाना चाहिए, पीले और लाल रंग की मोमबत्तियों को  दक्षिण-पश्चिम दिशा में लगाना अच्छा रहता है तथा हरी और नीली रंग की मोमबत्तियों को  पूर्व या दक्षिण-पूर्वदिशा में लगाना चाहिए । सफेद रंग की मोमबत्तियों को लगाना अवॉयड करना चाहिए लेकिन अगर फिर भी लगाना पड़े तो इन्हे उत्तर दिशा में लगाना चाहिए ।

मोमबत्ती लगाते वक़्त मोमबत्ती के स्टैंड पर खास ध्यान देना चाहिए । किसी भी दम्पति को अपने कमरे में गलती से भी मोमबत्ती को लोहे के स्टैंड पर नहीं लगाना चाहिए, इससे व्यक्ति के दांपत्य जीवन पर बुरा असर पड़ता है ।कमरे में रखने के लिए लकड़ी का स्टैंड सबसे उपयुक्त माना गया है । परन्तु ऑफिस या बच्चो के स्टडी रूम में मोमबत्ती रखने के लिए लोहे या अन्य किसी धातु का स्टैंड सबसे बेस्ट है, इससे सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है ।