चौराहे और टोने टोटके से जुड़े ऐसे फैक्ट जो आपको सोचने पर मजबूर देंगे !

1132.jpg

लेखक: सोनू शर्मा
हमारे देश में भले ही लोग बहुत मॉडर्न हो गए है लेकिन वो आज भी पुरानी मान्यताओं को मानते है, जैसे ही यदि बिल्ली रास्ता काट ले तो मन में शंका हो जाती है की जिस काम के लिए निकले थे वह पूर्णहोगा भी या नहीं । भारत में तांत्रिक ग्रथो का बहुत महत्व है और माना जाता है की टोन टोटको की मदद से बहुत से नामुमकिन कार्यो को मुमकिन बनाया जा सकता है । जानते की क्या वास्तव में ये टोनेटोटके बिगड़ते काम को बना सकते है –

चौराहा चार रास्तो का संधि पॉइंट होता है और इस जगह पर सबसे ज़्यादा नेगेटिव एनर्जी होती है । अक्सर देखा जाता है की चौराहे पर बहुत हादसे होते है । बहुत से लोग चौराहे पर कुछ सामग्री रख देते हैजैसे की मेहँदी, कुमकुम, मिठाई, बिंदिया, काजल इत्यादि । कहा जाता है की ये वस्तुए देवी देवताओ को भोग लगाने के लिए, कोई मन्नत पूरी करने के लिए, किसी बीमारी को दूर करने के लिए या किसीटोने टोटके की वजह से रखी जाती है ।

व्यक्ति को चौराहे पर बहुत सावधानी से चलना चाहिए क्युकि चौराहे पर रखी सामग्री देवी देवताओ का भोग होता है और उस सामग्री पर ठोकर लगना यानि की देवी देवताओ का अपमान यानि किसीसमस्या को बुलावा देना होता है । यदि आपको चौराहे पर गुड़िया, कटा हुआ निम्बू, मिठाई या लाल कपड़े में बंधी कुछ वस्तुए दिखाई दे तो आप सावधान हो जाए क्युकि ये बहुत ही प्रभावशाली टोनाटोटका है और इसका नेगेटिव इफ़ेक्ट हो सकता है । क्रॉस डिवीडर (cross divider) पर रखे जनि वाली सामग्री से हर कोई बचकर चलता है लेकिन शायद आप नहीं जानते होंगे कि टोटका सिर्फ उस पर सेगुजरने वाले प्रथम व्यक्ति पर ही असर करता है ।

आज के इस समय में जहा विज्ञानं ने बहुत तरकी कर ली है वहां अभी भी ऎसे बहुत से लोग है जो आध्यात्मिक और अन्धविश्वास से जुडी बातो में यकीन रखते है । आपको बता दे कि ये नेगेटिव फोर्सेजउन लोगो पर ज़्यादा असर करती है जो ज़्यादा नेगेटिव सोचते है ।